मेरी अंग्रेजी सुधार की यात्रा – पार्ट 1

प्रिय मित्रों, आप यहाँ फ़्लूएन्ट अंग्रेजी सीखने की चाह से आया करते हैं । इस बात की हमें बहुत खुशी होती है । आपको मैं अपनी अंग्रेजी सुधारने का सफ़र कुछ संक्षेप में बता रहा हूँ । यानी ये कि मेरी अंग्रेजी कैसे इम्प्रूव हुई । इससे होगा ये कि आपमें से जो कोई अपनी … Continue reading मेरी अंग्रेजी सुधार की यात्रा – पार्ट 1

Sources of learning good English

There are many sources of learning good English, some of them are- Listening to Radio News. Reading newspapers like the Hindu. Reading English Novels Chatting on EngHindi.com reagarding your listed doubts Talking to your friends for 1-2 hours daily only and only using English as a rule (see our earlier post regarding मित्र गपशप for … Continue reading Sources of learning good English

EXPRESSIONS OF SADNESS – उदासी के भाव

EXPRESSIONS OF SADNESS उदासी के भाव   जेसे ख़ुशी एक प्रकार की नहीं होती और उसकी अभिव्यक्ति के लिए विभिन्न प्रकार के भावो का प्रयोग किया जाता है, वेसे ही उदासी को अभिव्यक्त करने के लिए भीअलग अलग प्रकार के शब्दों का प्रयोग किया जाता है |   चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ शब्दों … Continue reading EXPRESSIONS OF SADNESS – उदासी के भाव

इंग्लिश ग्रामर के बेसिक नियम

Basics of English Grammar in Hindi   Tense (काल) किसी भी भाषा का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है । काल से पता चलता है की चर्चा किये जा रहे कार्य का समय के साथ क्या सम्बन्ध है । कार्य हो चुका है (भूतकाल) हो रहा है (वर्तमान काल) या  होने वाला है (भविष्यकाल)  और उसी … Continue reading इंग्लिश ग्रामर के बेसिक नियम

अंग्रेजी सुधारने के लिए मनोरंजक उपाय- मित्र-गपशप

अपनी अंग्रेजी सुधारने की बहुत से मध्यमवर्गीय परिवार के तरुणों की इच्छा होती है । लेकिन ठीक मार्गदर्शन के अभाव में वे ऐसा नहीं कर पा रहे होते हैं । जबकि ये इतना कठिन भी नहीं है । यहाँ प्रस्तुत हैं कुछ उपाय । मेरा मानना है कि यदि आपके पास 2-4 अच्छे मित्र हैं, … Continue reading अंग्रेजी सुधारने के लिए मनोरंजक उपाय- मित्र-गपशप

नज़ीर, मिसाल जैसों के अंग्रेजी शब्द …….

अंग्रेजी में नज़ीर या मिसाल के अर्थ में अनेक विशेष शब्द हैं । पहले तो आप यहाँ भी अटक सकते हैं कि ये नज़ीर आखिर क्या है ? नज़ीर एक तरह का उदाहरण है जो आगे के लोगों के लिए भी अनुकरणीय यानी अपनाने लायक हो । इस शब्द का इस्तेमाल खासकर विधिशास्त्र में यानी … Continue reading नज़ीर, मिसाल जैसों के अंग्रेजी शब्द …….

धन्यवाद या साधुवाद ? कहाँ कौनसा प्रयोग सही ?

हिन्दी भाषियों के मन में कई बार ये सवाल उठता है कि धन्यवाद (Dhanyavad) और साधुवाद  (Sadhuvad) में क्या अन्तर है और कौनसा कहाँ प्रयोग करना उचित है । आइये इस विषय में बात करें । पहले तो स्पष्ट कर दें कि ये दोनों ही मूलतः संस्कृत के शब्द नहीं हैं, यानी ये शब्द इस रूप … Continue reading धन्यवाद या साधुवाद ? कहाँ कौनसा प्रयोग सही ?